-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
प्रसव के लिये भर्ती हुई गर्भवती, दोपहर के बाद डिलेवरी के दौरान नवजात की मौत, परिजनों ने लगाए लापरवाही के आरोप

प्रसव के लिये भर्ती हुई गर्भवती, दोपहर के बाद डिलेवरी के दौरान नवजात की मौत, परिजनों ने लगाए लापरवाही के आरोप

 


मौके पर जांच करने पहुंचे तहसीलदार एवं नायाब तहसीलदार
नौगांव। शहर के सिविल अस्पताल में भर्ती गर्भवती महिला की प्रसव के दौरान नवजात शिशु की मौत का मामला सामने आया है। नवजात की मौत पर परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन ने लापरवाही के आरोप लगाते हुए हंगामा खड़ा कर दिया। जिसके बाद बीएमओ और तहसीलदार ने मौके कर पहुंचकर जांच पड़ताल करते हुए पंचनामा बनाते हुए बयान दर्ज किए हैं, तहसीलदार ने जांच उपरांत दोषियों पर कार्रवाई करने की बात कही है।
शुक्रवार सुबह चार बजे एक गर्भवती महिला को प्रसव पीड़ा होने के चलते सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में डिलेवरी वार्ड में भर्ती कराया गया। सुबह से दोपहर तक सब कुछ ठीक रहा लेकिन दोपहर उपरांत अचानक महिला बाथरूम के लिए गई, उसी दौरान प्रसव पीड़ा बढ़ी और उसकी डिलेवरी कराने के लिये नर्से पहुंच गई। बताया जा रहा है कि नवजात की गर्दन आगे की ओर थी और कुछ ही देर बाद प्रसव के दौरान बच्चे की मौत हो गई। मवइया के रहने वाले शत्रुघन राजपूत की पत्नि सचिता राजपूत को सुबह प्रसव पीड़ा होने के कारण करीब चार बजे अस्पताल में भर्ती कराया गया और शाम चार बजे डिलेवरी के दौरान नवजात की मौत हो गई। परिजनों की माने तो महिला को प्रसव पीड़ा हुई उस दौरान वार्ड में स्वास्थ्य विभाग  का भी कर्मचारी मौजूद नहीं था मौजूदा नर्स पर आरोप लगाए उसकी लापरवाही से नवजात की मौत हुई थी। लेकिन बताया जा रहा है कि प्रसूता बाथरूम गई थी और वहां से आते वक्त वह गिर गई थी। ठीक उसी वक्त प्रसव हुआ जिसमें नवजात मृत अवस्था में निकला। मामले की जानकारी लगते ही तत्काल बीएमओ रविन्द्र पटेल मौके पर पहुंचे तुरंत ही तहसीलदार संदीप तिवारी और नायब तहसीलदार पूजा भोरहरी को सूचना दी। दोनो अधिकारी ने मौके पर पहुंच गए और मामले की जांच शुरू कर दी। परिजनों के द्वारा जो आरोप लगाए गए हैं,उन पर भी जांच की जा रही है। क्योकि परिजनों का आरोप है स्टाफ मौजूद नहीं था और नर्स ताला लगाकर चली गई थी।
इनका कहना है
परिजनो के द्वारा जो आरोप लगाए गए हैं, उस पर जांच की जाएगी। बच्चा हरकत नहीं कर रहा था जाचं की जायेगी। किस कारण नवजात की मौत हुई है जांच का विषय है।
डॉ रविन्द्र पटेल, बीएमओ, नौगांव
मुझे और नायब तहसीलदार को बीएमओ के द्वारा जानकारी दी गई थी, मौके पर आकर जांच की गई। प्रसूता पक्ष और स्वास्थ्य स्टाफ से जानकारी ली जा रही है। जो भी लापरवाही हुई जो दोषी पाया जायेगा उस पर कार्रवाई होगी।
संदीप तिवारी, तहसीलदार, नौगांव

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->