-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
 सफाई व्यवस्था चौपट, पेय जल के लिए तरसते लोग

सफाई व्यवस्था चौपट, पेय जल के लिए तरसते लोग


गरीबों को नहीं मिल रह सरकारी योजनाओं का लाभ
घुवारा। बड़ामलहरा विधानसभा क्षेत्र बड़ा मलहरा के विकासखंड बक्सवाहा की सबसे बड़ी पंचायत बाजना में सरपंच सचिव एवं रोजगार सहायक मिलकर पंचायत की व्यवस्थाएं चौपट कर रहे हैं यहां का ग्रामीण सरकारी योजनाओं के लिए तरस रहा है गांव के लोगों को समय पर पानी उजाला एवं सफाई नहीं मिलती है।
बड़ी पंचायत होने के नाते यहां पर नालियां कचरो से भरी पड़ी है बदबूदार पानी बहता है जिसकी वजह से लोग बीमार हो रहे हैं जगह-जगह कचरा का अंबार लगा हुआ है बस स्टैंड जैसे स्थल पर कूड़े का ढैर लग रहा हैअपने आप मे आश्चर्य है मगर पंचायत कर्मी इस तरफ ध्यान नहीं देते हैं गांव में बनी एक किलोमीटर की नालियां कचरो से भरी हुई है जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे हुए हैं सफाई कर्मी गांव में झाड़ू नहीं लगाता है जिसकी वजह से धार्मिक स्थल जैन मंदिर हनुमान मंदिर लक्ष्मी नारायण मंदिर नरसिंह मंदिर थाना परिषर स्कूल मैदान सभी गंदगी से भरे पड़े हैं मगर सारी जानकारी प्राप्त होने एवं लोगोकी शिकायत होने पर भी यहां की महिला सरपंच भगवती शुक्ला एवं सचिव राजेंद्र विश्वकर्मा के अलावा रोजगार सहायक महेंद्र शुक्ला भी ध्यान नहीं देते हैं जहां पैसे की कमाई होती है वहां यह लोग काम करते हैं।
पीने का पानी नल जल योजना चौपट है कभी कभार पानी आता है पुराने कुओं से लोग  काम चलाते हैं मगर कुवो में कीड़ो भरा पानी मिलता है मगरकुवो दवाई नहीं डाली जाती है गांव में लगे आधे से अधिक हैंडपंप खराब पड़े हैं लोग पानी के लिए परेशान है।
स्ट्रीट लाइट के नीचे अंधेरा-
गांव केमार्ग में खंबे खड़े कर दिए मगर स्ट्रीट लाइट कभी-कभी जलती है रात्रि में अंधेरा बना रहता है यदि कोई रिश्तेदार आ जाए तो उसको घर तलाशने में मशक्कत करनी पड़ती है।
प्रत्येक मोहल्ला में दारू की दुकान-
बाजना ग्राम पंचायत के तहत लगभग आधा दर्जन अवैध ढंग से शराब की दुकान हैं जिसकी वजह से युवा पीढ़ी बर्बाद हो रही है ग्राम पंचायत ने आज तक सरकार को लिखित नहीं दिया कि गांव में अवैध दारू बिक रही है। भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है प्रधानमंत्री आवास योजना में हितग्राही से पैसे लिए जाते हैं वहीं शौचायलयों का कागजी खाकातैयार कर गरीबों का पेमेंट डकार लिया है गरीबी रेखा में नाम जोडऩे के पैसे लिए जाते हैं इसके अलावा जो भी निर्माण इस पंचायत में होता है बंदर वाट किया जाता है। इसलिए निर्माण काम घटिया एवं कमजोर हैं बाजना पंचायत के एक दर्जन से भी अधिक लोगों ने कलेक्टर को ज्ञापन देकर कहा कि निर्माण कामों की जांच की जाए एवं यहां पर एक शिविर  लगाया जाए ताकि गरीबो को सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सके एवं भ्रष्टाचार की जांच हो सके आवास योजना के तहत संपन्न एवं सरदार लोगों को आवास योजना का लाभ मिल रहा है गरीब लोग आज भी परेशान रहते हैं कच्चे मकानो में निवास किए हुए हैं।

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->