-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
देश के कौने कौने से माफियाओं के द्वारा बुलाई जातीं है नाबालिग लड़कियां

देश के कौने कौने से माफियाओं के द्वारा बुलाई जातीं है नाबालिग लड़कियां

 


अनैतिक देह व्यापार के कारोबार से सराबोर शहर

नाबालिंग लड़की को लगी गोली तो पुलिस प्रशासन ने कर दिया मामले का खुलासा

छतरपुर। विगत कई वर्षो से शहर अनैतिक देह व्यापार के कारोबार से सराबोर चल रहा है। माफियां शहर की कानून व्यवस्था को अपने चंगुल में लिए है। पुलिस प्रशासन आसानी से इनके कारोबार की तह तक नहीं पहुंच पाती है। देश के कौने कौने से शहर में इन माफियाओं के द्वारा नाबालिग लड़कियों को बुलाया जाता है। शौकीन लोगों के सामने नाबालिग लड़कियों की जिदंगी को परोसा जाता है। यह कारोबार शहर के एक स्थान पर नहीं बल्कि कई स्थानों पर चल रहा है। इसका स्पष्टीकरण सोमवार को पुलिस प्रशासन ने एक मामले के  खुलासे में कर दिया है। क्योंकि विगत माह पहले शहर की सिटी कोतवाली अंतर्गत संतोषी तिवारी के यहां एक गोलीकाण्ड में नाबालिग लड़की घायल हो गई थी। वह नाबालिग लड़की कानपुर निवासी बताई गई थी और संतोषी तिवारी ने स्कूटी का प्रलोभन देकर बंधक बनाया और गलत काम करने के लिए मजबूर किया था।
वाहर से बुलाई जाती है नाबालिग लड़कियां
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शहर के कौने कौने में अनैतिक देह व्यापार का काम चल रहा है। शहर के शौकीन लोगों के पास इन नाबालिग लड़कियों को परोसा जाता है। यहां तक की इन नाबालिंग बालिकाओं को शहर की नामचीन होटलों में भी भेजा जाता है। नाबालिंग बालिकाओं की जिंदगी से खिलवाड़ करने वाली अनैतिक देह व्यापार की गैंग का जाल शहर सहित कस्बों तक  में फैला हुआ है। जिसकी जानकारियों से पुलिस प्रशासन अंजान बना हुआ है। जब कोई अप्रिय घटना घटित हो जाती है तो पुलिस प्रशासन सक्रिय होने लगता है और देह व्यापार से जुड़े लोगों पर कार्रवाई करना शुरू कर देता है। लेकिन वाहर से बुलाई गई नाबालिगों की जिंदगी तब तक बर्वाद हो जाती है।  
महिला सहित तीन लोगों पर हुआ था मामला दर्ज-
नाबालिक लड़की उम्र 16 साल से महिला आरोपी संतोषी तिवारी से परिचय होने से यहां आई थी। नई स्कूटी देने का प्रलोभन दिया गया था। बालिका के छतरपुर आते ही महिला आरोपी संतोषी द्वारा बंधक बनाकर गलत काम करने के लिए विवश किया गया। उसी दौरान दिनांक 18 मार्च 2024 की रात्रि में नाबालिक बालिका के पैर में गोली लगने की सूचना पुलिस को प्राप्त हुई थी। बालिका को अस्पताल पहुंचा कर शीघ्र ही गोली मारने वाले आरोपी मंजू पटेरिया जिसके ऊपर 40 मामले पूर्व से दर्ज और गोली काण्ड का मामला भी दर्ज किया गया था। मामले की विवेचना के दौरान अनैतिक देह व्यापार संचालन में लिप्त  हरि सिंह पर चार मामला दर्ज, रक्कू उर्फ राकेश गोस्वामी पर 6 मामला दर्ज एवं इस पूरे मामले की मु य आरोपी संतोषी तिवारी पर कोतवाली में सात अपराध सहित उत्तर प्रदेश एवं मध्य प्रदेश के विभिन्न जिलों में अनैतिक देह व्यापार सहित अन्य तरह के अपराध पंजीबद्ध हैं। इस पूरे मामले में नाबालिग बालिक के बयानों के अनुसार मु य आरोपी संतोषी तिवारी सहित तीन लोगों पर मामला पंजीबद्ध किया गया था।
सभी आरोपियों को पुलिस ने न्यायालय में किया पेश-
पुलिस अधीक्षक अगम जैन ने उक्त अपराध की समीक्षा करते हुए संबंधित सभी आरोपियों की शीघ्र गिर तारी हेतु थाना कोतवाली एवं थाना महिला से गठित संयुक्त पुलिस टीम को निर्देशित किया गया। प्रकरण के आरोपी की शीघ्र गिर तारी हेतु 10 हजार के इनाम की उद्घोषणा की गई थी। महिला पुलिस थाना प्रभारी निरीक्षक माधवी अग्निहोत्री एवं पुलिस टीम द्वारा गिर तार कर अभीरक्षा में लिया गया। अभियुक्ता संतोषी द्वारा किया गया कुकृत्य स्वीकार किया गया। अभियुक्ता को न्यायालय पेश कर जेल दाखिल किया जा रहा है। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक अरविंद कुजूर, थाना प्रभारी महिला, थाना निरीक्षक माधवी अग्निहोत्री, साइबर सेल प्रभारी संदीप खरे एवं थाना कोतवाली महिला थाना एवं साइबर टीम की महत्वपूर्ण भूमिका रही।
इनका कहना है-
अनैतिक देह व्यापार के मामलों में सभी थानों सहित शहर के सीएसपी साहब को अवगत कराया गया है। जहां से भी इस प्रकार की शिकायत आती है तो तत्काल कार्रवाई की जायेगी। इसी प्रकार के मामले से जुडे गोलीकाण्ड के आरोपियों को गिर तार किया जा चुका है।
अगम जैन, एसपी, छतरपुर

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->