-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
ग्रामीणों ने कलेक्टर के नाम जनपद सीईओ को सौंपा ज्ञापन

ग्रामीणों ने कलेक्टर के नाम जनपद सीईओ को सौंपा ज्ञापन

 


लवकुशनगर। फूड इंस्पेक्टर सुगंध जैन द्वारा सचिव रोजगार सहायक व दो विक्रेताओं से रिश्वत मांगने के मामले में बुधवार को लवकुशनगर में जनता सड़क पर उतर गई थी। गुरुवार को गौरिहार क्षेत्र की जनता ने सड़को पर उतरकर जमकर प्रदर्शन किया। लोगों ने सुगंध जैन हटाओ, क्षेत्र बचाओ सहित मुर्दाबाद के नारे लगाए इसके बाद जनपद सीईओ गोविंद सिंह राजावत को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन के माध्यम से लोगों ने बताया कि सुगंध जैन द्वारा पात्रता पर्ची वेरिफाईड करने के एवज में रिश्वत मांगने सहित अभद्र व्यवहार किया जाता है जिसके चलते इन्हें यहां से तत्काल हटाया जाए।
प्रत्येक पात्रता पर्ची में एक हजार रुपयों की जाती है मांग-
संजय तिवारी, कृष्णकांत निगम, कालीदीन पाल, उमाकांत, सियाशरण आदि क्षेत्रीय लोगों ने बताया कि चुनाव आचार संहिता के पूर्व करीब 4 माह से कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी द्वारा पात्रता पर्चियों को वेरिफाईड नहीं किया है जबकि खाद्य नागरिक आपूर्ति विभाग भोपाल के पत्र क्रमांक एफ 7-32/2023/29-1 दिनांक 1 नवम्बर 2022 को स्पष्ट निर्देश जारी किए गए थे कि कनिष्ठ अधिकारी द्वारा 7 दिवस में पात्रता पर्चियों को वेरिफाईड या निरस्त करने की कार्रवाई करेंगे।
किया जाता है अभद्रतापूर्ण व्यवहार-
लोगों ने बताया कि कनिष्ठ आपूर्ति द्वारा पात्रता पर्चियों को फेरिफाईड करने के एवज में प्रत्येक हितग्राही एक हजार रुपयों की मांग की जाती है। उन्होंने बताया कि पर्चियों को नियमानुसार 7 दिवस में पात्र अपात्र करने के आदेश को ठेंगा दिखाते हुए अधिकारी द्वारा रुपये लेने के लिए 4-4 माह लटकाया जाता है। हम लोग जब भी इस बात के लिए कार्यालय जाते हैं तो हमारे साथ अभद्रतापूर्ण व्यवहार किया जाता है।
इनका कहना है-
इस बात को लेकर अभी हितग्राहियों में कनिष्ठ अधिकारी के प्रति भारी आक्रोश पनप रहा है। उन्होंने सुगंध जैन को तत्काल हटाए जाने की भी मांग की है। फूड इंस्पेक्टर की शिकायत मेरे पास आई है कलेक्टर छतरपुर के नाम ज्ञापन लोगों ने सौपा है  
गोविंद सिंह राजावत, सीईओ, जनपद गौरिहार

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->