-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
 ब्लॉक में पदस्थ फर्जी दिव्यांग सर्टिफिकेट से नौकरी पाने वाले शिक्षकों पर हुई कार्रवाइ

ब्लॉक में पदस्थ फर्जी दिव्यांग सर्टिफिकेट से नौकरी पाने वाले शिक्षकों पर हुई कार्रवाइ


नौगांव। शिक्षा विभाग ने नौगांव ब्लॉक में फर्जी दिव्यांग सर्टिफिकेट से नौकरी कर रहे तीन शासकीय शिक्षकों को नौकरी से बर्खास्त करने का आदेश जारी किया है। संकुल प्राचार्य ने आदेश का पालन कराते हुए तीनों शिक्षकों को पद से पृथक करते हुए इनके खिलाफ पुलिस थाना में एफआईआर दर्ज कराने पुलिस को आवेदन सौंपा। किंतु दस्तावेज पूर्ण न होने के कारण पुलिस ने अभी मामले में कायमी नहीं की है।
बता दें कि बीते वर्ष दिव्यांगता सर्टिफिकेट के आधार पर नौकरी करने का मुद्दा तूल पकड़ा था। जिसके बाद लोक शिक्षण संचालनालय ने प्रदेश में दिव्यांग सर्टिफिकेट से नौकरी करने वालों के प्रमाण पत्र की फिर से जांच कराई थी, जांच के बाद लोक शिक्षण संचालनालय ने जांच में फर्जी निकले प्रमाण पत्र के आधार पर शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई की है। कार्रवाई करने के साथ ही विभाग ने शिक्षकों को बर्खास्त भी किया है। इसी के तहत छतरपुर जिले के नौगांव ब्लॉक में पदस्थ 3 शिक्षकों सहित जिले के 11 शिक्षकों को बर्खास्त करने एवं इनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने जिला शिक्षा अधिकारी एमके कौटार्य ने संकुल प्राचार्य को पत्र लिखकर कार्रवाई करने को कहा है। जिसके तहत नौगांव सीएम राइज स्कूल के कैंपस 2 में संचालित प्राथमिक विधालय में फर्जी दिव्यांग प्रमाण पत्र से नौकरी कर रही शिक्षक श्रुति तिवारी, इसी स्कूल में फर्जी दिव्यांग प्रमाण पत्र से पदस्थ अवनीश द्विवेदी और दौनी गांव में पदस्थ पवन सोनी को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है। सीएम राइज स्कूल के ग्वालटोली में संचालित प्राइमरी स्कूल के हेडमास्टर आशाराम अहिरवार ने बताया की 04 अप्रैल को संकुल प्राचार्य के का पत्र मिला था, जिसमें श्रुति तिवारी और अवनीश द्विवेदी को पद से बर्खास्त करने के संबंध में सूचना मिली थी, जिसके बाद दोनों शिक्षकों को सूचित कर संकुल प्राचार्य के पास भेज दिया था, संकुल में दोनों शिक्षकों को पद से पृथक करने के पत्र भी दे दिए हैं।  फर्जी दिव्यांग सर्टिफिकेट से नौकरी करने के आरोपी शिक्षकों पर एफआईआर दर्ज कराने संकुल प्राचार्य ने पुलिस को सौंपा आवेदन।
सीएम राइज स्कूल के कैंपस 2 में संचालित प्राइमरी स्कूल से बर्खास्त किए गए श्रुति तिवारी और अवनीश द्विवेदी के संकुल शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्राचार्य महेंद्र प्रताप अहिरवार और दौनी से बर्खास्त पवन सोनी के संकुल प्राचार्य ने नौगांव पुलिस थाना में तीनों शिक्षकों के खिलाफ फर्जी दस्तावेज लगाकर नौकरी करने के खिलाफ सहित अन्य शिकायतों में एफआईआर दर्ज करने को लेकर आवेदन सौंपा है। आवेदन के साथ दस्तावेज पूरे न होने के कारण पुलिस ने अभी मामला पंजीबद्ध नहीं किया है, लेकिन दस्तावेज पूर्ण होते ही पुलिस एफआईआर दर्ज करने की बात कह रही है।
इनका कहना है-
नौगांव ब्लॉक में तीन शिक्षकों के खिलाफ फर्जी दिव्यनग सर्टिफिकेट मामले में कार्रवाई हुई है, जिसमें तीनों शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया है, साथ ही एफआईआर दर्ज कराने पुलिस को भी शिकायती आवेदन सौंप दिया है।
दिनेश कुमार गुप्ता, खंड शिक्षा अधिकारी, नौगांव ब्लॉक
तीन शिक्षकों के ऊपर मामला दर्ज करने दो आवेदन आए थे, लेकिन उसमें पूरे दस्तावेज न होने के चलते अभी एफआईआर नहीं हुई है। शिक्षा विभाग के अधिकारी जब सम्पूर्ण दस्तावेज के साथ फिर से आवेदन देंगें तो निश्चित तौर कर एफआईआर दर्ज की जाएगी।
सतीश सिंह, नगर निरीक्षक, थाना प्रभारी नौगांव

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->