-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
राम मंदिर निर्माण के कारण दोगुना हुआ रामनवमीं का उत्साह

राम मंदिर निर्माण के कारण दोगुना हुआ रामनवमीं का उत्साह

 


शोभायात्रा में भक्ति, शौर्य, सेवा, एकता, उमंग और नृत्य का समावेश,छतरपुर में निकली रामनवमीं की भव्य शोभायात्रा

छतरपुर। रामभक्तों के उत्साह के कारण छतरपुर की पहचान बन चुकी श्रीरामनवमीं की शोभायात्रा में इस वर्ष पिछले वर्षों के मुकाबले कई गुना अधिक उत्साह देखने को मिला। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की प्रसन्नता इस शोभायात्रा में भी नजर आयी। भीषण गर्मी और 40 डिग्री तापमान पर रामभक्तों के तेवर भारी पड़ते रहे। लगभग 8 किमी लंबी शोभायात्रा को पूरा होने में 9 घंटे से ज्यादा का वक्त लगा। हजारों रामभक्त दोपहर एक बजे से लेकर रात 10 बजे तक सड़कों पर नाचते-गाते नजर आए। श्रीराम सेवा समिति के द्वारा आयोजित इस शोभायात्रा में सनातन की एकता, शौर्य, भक्ति, उमंग, नृत्य और सेवा की झलक दिखी। लगभग 30 झांकियों के माध्यम से सनातनियों ने धर्म का संदेश दिया। महापुरूषों के स्वरूपों के माध्यम से अपने गौरवशाली इतिहास को प्रकट किया। शोभायात्रा के सबसे आखिर में भगवान श्रीराम का रथ चल रहा था जिसमें विराजे भगवान के दर्शन के लिए सड़कों पर भी हजारों श्रद्धालुओं का सैलाब दिन भर खड़ा रहा।
रामजन्म के बाद शोभायात्रा का हुआ शुभारंभ
गल्लामण्डी स्थित रामचरित मानस मैदान में दोपहर 12 बजे भगवान श्रीराम के जन्म की लीला प्रारंभ हुई। अन्नपूर्णा रामलीला के कलाकारों ने सबसे पहले भगवान विष्णु के अवतारों की लीला का मंचन किया और इसके बाद भगवान राम के जन्म की लीला का मंचन होते ही यहां बधाई गीत बजने लगे, श्रीराम के जयकारे लगने लगे। जैसे ही एक बालक के रूप में कलाकारों ने भगवान राम के दर्शन श्रद्धालुओं को कराए तो रामचरित मानस मैदान में बैठे हजारों श्रद्धालु नाच उठे। यहां मप्र शासन के राज्यमंत्री दिलीप अहिरवार, छतरपुर विधायक ललिता यादव, भाजपा जिलाध्यक्ष चन्द्रभान गौतम, लोकसभा के कांग्रेस प्रत्याशी पंकज अहिरवार, भाजपा नेता संजय रिछारिया, पुष्पेन्द्र प्रताप सिंह, नंदिता पाठक, भरत पाठक, उमेश शुक्ला सहित सैकड़ों श्रद्धालु उपस्थित रहे।
इस बार झांकियों में दिखा नया उत्साह
श्रीरामनवमीं की इस शोभायात्रा में इस वर्ष 30 से ज्यादा झांकियां इस शोभायात्रा का प्रमुख आकर्षण बनीं। शोभायात्रा का प्रारंभ प्रताप नवयुवक संघ एवं अन्य सामाजिक संगठनों के द्वारा तैयार किए गए शौर्य नृत्य कलाकारों के शानदार नृत्य के साथ हुआ। लगभग एक हजार कलाकारों ने तलवार नृत्य, डांडिया नृत्य, झांझ नृत्य, ढोल नृत्य के साथ अनूठी वेशभूषा में अपनी शानदार प्रस्तुति दी। इन कलाकारों के उपरांत प्रथम पूज्य भगवान गणेश की प्रतिमा चल रही थी। भगवान गणेश की प्रतिमा के बाद विभिन्न समाजों के द्वारा भी अपनी झांकियां निकाली गईं। इनमें जैन समाज के द्वारा आचार्य विद्यासागर जी की झांकी, नामदेव समाज के द्वारा संत नामदेव जी की झांकी, सिंधी समाज द्वारा भगवान झूलेलाल की झांकी प्रमुख आकर्षण रहीं। इस वर्ष गायत्री मंदिर के द्वारा भगवान के रथ के आगे एक हवन कुण्ड भी निकाला गया जिसमें निरंतर हवन चलता रहा और इस झांकी के माध्यम से यज्ञ हवन का महत्व बताया गया। इसके अलावा ब्रहकुमारी बहनों के द्वारा भी अनूठी झांकी निकाली गई। भगवान लड्डू गोपाल की झांकी भी पहली बार शोभायात्रा में शामिल हुई, यह झांकी प्रभु श्रीराम के रथ के आगे चल रही थी। मलखम्भ के युवा खिलाडिय़ों ने जहां चलित झांकी पर ही अपने शौर्य का प्रदर्शन किया तो वहीं अयोध्या में निर्मित प्रभु राम की प्रतिमा के स्वरूप में ही एक झांकी पर अयोध्या के राम शोभायात्रा में शामिल हुए। भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष पुष्पेन्द्र प्रताप सिंह और उनकी टीम के द्वारा भगवान राम के रथ के आगे पिछले वर्षों की तरह इस वर्ष भी झाडू लगाकर स्वच्छता का संदेश दिया गया।
जगह-जगह हुआ स्वागत, आसमान में लहराए भगवा झण्डे
श्रीराम सेवा समिति ने इस वर्ष भगवान के रथ खींचने के लिए सनातन के सभी समाजों को अवसर दिया था। इन्हें बारी-बारी से पूरे मार्ग में रथ खींचने का अवसर मिला। कांग्रेस ने अपने कार्यालय के बाहर शोभायात्रा में शामिल भक्तों को मीठा शरबत पिलाया तो वहीं अधिवक्ता संघ ने छत्रसाल चौराहे पर रामभक्तों का जलपान के साथ स्वागत किया। भाजपा कार्यालय में भी गर्मजोशी के साथ रामभक्तों का स्वागत किया गया। शोभायात्रा में इस वर्ष एक हजार से ज्यादा भगवा पताका हवा में लहराते नजर आए तो वहीं भगवान हनुमान के स्वरूप में भी अनेक भक्तों ने भक्तिपूर्ण प्रस्तुति दी।
खजुराहो में धूमधाम से मनाई गई रामनवमीं, निकाली विशाल शोभायात्रा
खजुराहो। विश्व पर्यटन नगरी खजुराहो में प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी भगवान राम का प्रगतोत्सव पर्व धूमधाम से मनाया गया। इस आयोजन में नंदी चौराहे स्थित धार्मिक स्थल पर हवन-पूजन के सुंदरकांड रामायण पाठ सम्पन्न हुआ,इसके बाद धार्मिक आयोजन में एक विशाल शोभायात्रा निकाली गई, जिसमें भगवान रामलला की झांकी के साथ डी.जे.पर अलग अलग समूह में नृत्य करते रामभक्तों की टोली चल रही थी। वहीं मोटरसाइकिल पर धर्मध्वज फहराते हुए रामभक्तों के जयकारों से आसमान गुंजायमान हो रहा था शोभायात्रा की शुरुआत पश्चिमी मंदिर समूह प्रांगण स्थित मतंगेश्वर मंदिर के प्रमुख द्वार से प्रारंभ होकर ललगुवां, मंजूरनगर, विद्याधर कालौनी, पुरानी-बस्ती सहित नगर के प्रमुख मार्गों से निकाली गई। शोभायात्रा का नगर में खजुराहो व्यापारी संघ,यशोवर्मन टैक्सी चालक यूनियन,सकल जैन समाज सहित अन्य स्थलों पर भव्य स्वागत दिया गया। रामभक्तों ने उत्साह के साथ गगनभेदी जयकारे लगाए। शोभायात्रा में न.प.अध्यक्ष-पप्पू अवस्थी, उपाध्यक्ष प्रतिनिधि-आशाराम पाल,पार्षद-गौरव सिंह बघेल,नीतेश द्विवेदी,राजीव वाजपेयी, एड.श्यामबाबू त्रिवेदी, सुधीर शर्मा, गोलू यादव, दिनेश गौतम, अवधेश तिवारी, लकी गौतम,राजकुमार गंगेले, एड. वीरेन्द्र तिवारी, संजीव शुक्ला, रामराजा अरजरिया, गोपाल गौतम, परशुराम तिवारी, आनंद चतुर्वेदी खजुराहो व्यापारी संघ की ओर से नरेश सोनी, गौरव अग्रवाल, परमेन्द्र अग्रवाल, कपिल सिंह बुन्देला, रजत अग्रवाल, रिंकू गुप्ता, पिंटू असाटी सहित अन्य व्यापारियों ने शोभायात्रा और रामभक्तों का भव्य स्वागत किया। शोभायात्रा में बड़ी संख्या में रामभक्त शामिल रहे। आयोजन में सी.एम. ओ.नगर परिषद-बसंत चतुर्वेदी की सराहनीय पहल रही।  

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->