-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
 बसपा नेता हत्याकांड के प्रमुख आरोपी के अवैध निर्माण को किया गया धराशायी

बसपा नेता हत्याकांड के प्रमुख आरोपी के अवैध निर्माण को किया गया धराशायी


आरोपी के पिता की दुकानों को भी टीम ने नापा
छतरपुर। विगत 4 मार्च को छतरपुर शहर के सागर रोड पर बिजावर विधानसभा के बसपा नेता महेन्द्र गुप्ता की गोली मारकर निर्मम हत्या कर दी गई थी। पुलिस मामले का खुलासा कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर चुकी है लेकिन घटना का मुख्य आरोपी रानू राजा सहित अन्य आरोपी अभी फरार चल रहे हैं। उनकी गिरफ्तारी पर इनाम घोषित करने के साथ ही पुलिस ने उसके द्वारा किए गए अवैध निर्माणों को धराशायी करना शुरु कर दिया है। बुधवार को ईशानगर में पुलिस और राजस्व विभाग की संयुक्त टीम द्वारा मुख्य आरोपी द्वारा अवैध कब्जा कर बनाई गई चार दुकानों को धराशायी कराया गया। साथ ही आरोपी के पिता जो कि स्वयं भी अपराधी है, उसकी दुकानों की भी नपाई कराई गई है।
घटना में शामिल कुछ आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है लेकिन घटना का मुख्य आरोपी रानू राजा पुत्र प्रतिपाल सिंह निवासी सींगौन थाना ईशानगर अभी पुलिस की पकड़ से दूर है। आईजी सागर द्वारा रानू राजा की गिरफ्तारी पर इनाम घोषित कर विधि सम्मत कार्यवाही के निर्देश दिए थे, जिसका पालन करते हुए बुधवार को पुलिस विभाग और राजस्व विभाग की संयुक्त टीम ईशानगर कस्बा पहुंची। जांच में पाया गया कि ईशानगर के मुख्य बाजार में रानू राजा द्वारा 4 दुकानों का निर्माण अवैध ढंग से किया गया है। बिजावर और नौगांव एसडीओपी सहित आधा दर्जन से अधिक थानों के पुलिस बल तथा प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में तत्काल ही रानू राजा की इन अवैध संरचनाओं को जेसीबी मशीन से धराशायी कराया गया। उक्त कार्यवाही के उपरांत टीम ने रानू राजा के पिता प्रतिपाल सिंह जो कि स्वयं एक शातिर अपराधी है और जेल में बंद है, उसके द्वारा बनाए गए व्यवसायिक कॉम्पलैक्स की भी नपाई कराई गई। गौरतलब है कि दिवंगत बसपा नेता महेन्द्र गुप्ता और सींगौन निवासी प्रतिपाल सिंह ठाकुर के बीच करीब 25 साल से रंजिश चली आ रही है और इसी रंजिश के तहत प्रतिपाल सिंह के पुत्र रानू ने उनकी हत्या की है। संभावना है कि शीघ्र ही प्रतिपाल सिंह की दुकानों पर भी कार्यवाही हो सकती है। उल्लेखनीय है कि बसपा नेता हत्याकांड के मुख्य आरोपी रानू राजा पर महेन्द्र गुप्ता की हत्या के अलावा और भी कई मामले पंजीबद्ध हैं, जिनमें कुछ हत्या के मामले भी शामिल हैं।
इनका कहना-
गत माह ईशानगर निवासी बसपा नेता महेन्द्र गुप्ता की गोली मारकर हत्या की गई थी। हत्या की साजिश रचकर अंजाम देने वाला मुख्य आरोपी रानू राजा अभी फरार चल रहा है। उसके विरुद्ध पूर्व से कई अपराध पंजीबद्ध हैं। आईजी सागर ने रानू राजा की गिरफ्तारी पर इनाम घोषित किया है। आज पुलिस और प्रशासन की संयुक्त टीम ने रानू राजा द्वारा ईशानगर में किए गए अवैध निर्माण को धराशायी करने की कार्यवाही की गई है, साथ ही उसके पिता प्रतिपाल सिंह के व्यवसायिक कॉम्पलैक्स की नपाई कराई गई है। प्रतिपाल सिंह अभी जेल में बंद है और उसके ऊपर भी कई आपराधिक मामले दर्ज हैं।
अगम जैन, पुलिस अधीक्षक, छतरपुर

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->