-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
निजी कुंआ को सार्वजनिक कूप बताकर सरपंच सचिव ने हड़पी राशि

निजी कुंआ को सार्वजनिक कूप बताकर सरपंच सचिव ने हड़पी राशि

 


निजी कुंआ को सार्वजनिक कूप बताकर सरपंच सचिव ने हड़पी राशि,कुआं सड़क के किनारे होने से आए दिन हो रहे हादसे

घुवारा। जनपद पंचायत बड़मलहरा के अंतर्गत ग्राम पंचायत मबई में सरपंच व सचिव की मिलीभगत से कई वर्षो पहले बना निजी कुआं में बिना किसी निर्माण कार्य किए बिना करीबन 6 माह पहले भ्रष्टाचार नीति अपनाकर भुगतान कर शासन की राशि को हड़पने का मामला सामने आया है। मबई निवासी नन्हीबाई कुशवाहा ने सरपंच व सचिव पर आरोप लगाते हुए बताया कि ग्राम पंचायत मबई के वार्ड नंबर 1 में गोपाल पटेल के घर के पीछे मेरा निजी कुआं है।जिस पर ग्राम पंचायत के सरपंच झल्लू लोधी, सचिव राजेश सौर रोजगार सहायक गजेंद्र अग्निहोत्री ने मिल जुलकर मेरे निजी कुआं के भ्रष्टाचार की नीति अपनाकर कुआं में बिना किसी निर्माण कार्य के बिना करीब 6 माह पहले 30 हजार 940 रुपए का भुगतान कर शासन की राशि को हड़प लिया है। वहीं नन्हींबाई कुशवाहा को जब अपने निजी कुंआ के नाम पर भुगतान की जानकारी लगी तो उनके परिजनों के द्वारा तत्काल जनपद के अधिकारियो से सरपंच सचिव और रोजगार सहायक की शिकायत भी की गई थी। लेकिन जनपद के अधिकारियों द्वारा इस पूरे मामले को संज्ञान में नहीं लिया गया। सरपंच झल्लू लोधी ने कुंआ सड़क के किनारे बने से होने से हो रहे हादसों का हवाला देकर कुंआ को पूरने की बात कही। लेकिन लगातार 6 माह बीत जाने के बाद न ही सरपंच के द्वारा कुंआ की पुराई की गई और न ही अधिकारियों के द्वारा सरपंच सहित ग्राम पंचायत के अमले पर कार्यवाही की गई। खुले पड़े कुआं और बोर को बंद करवाने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों ने निर्देश भी जारी किए है। लेकिन सरपंच के द्वारा अधिकारियों ने निर्देश को ऑनलाइन पूरा कर शासन की राशि को हड़प लिया है। और उस कुआं से आए दिन राहगीर व जानवर दुर्घटनाग्रस्त भी हो रहे है। सरपंच सचिव के द्वारा किए गए भ्रष्टाचार कर शासन की राशि को हड़पने के मामले मैं नन्हीबाई ने जांच कर कार्यवाही की मांग की है।
इनका कहना है।
मबई गांव में वर्षो से बने निजी कुंआ को सार्वजनिक कूप बताकर बिना किसी निर्माण कार्य के सरपंच व सचिव रोजगार सहायक के द्वारा फर्जी भुगतान करने का मामला आपके द्वारा सामने आया है। मामले की जांच करवाई जायेगी जांच उपरांत दोषियों पर कार्यवाही की जायेगी।
एसके मिश्रा, सीईओ, जनपद पंचायत बड़ामलहरा

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->