-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
फांसी पर लटकी मिली लाश के मामले का पुलिस ने किया खुलासा

फांसी पर लटकी मिली लाश के मामले का पुलिस ने किया खुलासा

 



पुत्र ने ही की थी पिता की हत्या, दोस्त की मदद से फंदे पर लटकाया

छतरपुर। करीब एक माह पहले कोतवाली थाना क्षेत्रांतर्गत फोरलाइन इलाके में एक व्यक्ति का शव फांसी के फंदे पर लटका हुआ मिला था। पीएम रिपोर्ट में सामने आया था कि संबंधित व्यक्ति की मौत फांसी के कारण नहीं बल्कि सिर में लगी चोट के कारण हुई है, जिसके बाद पुलिस ने अज्ञात के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज करते हुए जांच शुरु की थी। मामले की बारीकी से विवेचना किए जाने पर इस मामले का चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। पुलिस के मुताबिक हत्या की वारदात को मृतक के पुत्र ने अंजाम दिया था तथा बाद में अपने एक साथी के साथ मिलकर शव को फांसी के फंदे पर लटकाया था। दोनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।
कोतवाली थाना प्रभारी अरविंद कुजूर ने बताया कि 30 नवंबर 2023 को उन्हें सूचना मिली थी कि टौरिया मोहल्ला निवासी 41 वर्षीय घनश्याम कोरी का शव बाईपास रोड के ओवरब्रिज के समीप एक पुलिया में फांसी के फंदे पर लटका हुआ है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम कराया तो ज्ञात हुआ कि यह मामला आत्महत्या का नहीं बल्कि हत्या का है, क्योंकि मृतक की मौत उसके सिर में लगी चोट के कारण हुई थी। पुलिस ने धारा 302 का मामला पंजीबद्ध कर पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में मामले की विवेचना की गई, जिसमें पुलिस को परिजनों पर संदेह हुआ। जब पुलिस ने मृतक की पत्नी और पुत्र से बारीकी से पूछताछ की तो पुत्र ने हत्या करना स्वीकार कर लिया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी के अलावा उप निरीक्षक श्याम बैन, प्रधान आरक्षक राजेश पाठक, राजेश अहिरवार, राजनारायण भट्ट, अजय गुप्ता, अरविंद कुशवाहा, जुगल किशोर, आरक्षक रूपेश सूत्रकार, रामशरण त्रिपाठी, अनिल माँझी एवं प्रधान आरक्षक चालक अशोक तिवारी की महत्वपूर्ण भूमिका रही।
नशे में पिता ने किया था विवाद, पुत्र ने बांट मारकर की थी हत्या
मृतक के 29 वर्षीय पुत्र नीरज कोरी उर्फ बाबू ने बताया कि उसका पिता घनश्याम शराब और गाँजा पीने का आदी था और नशे में आये दिन घर पर विवाद करता था। 29 नवंबर की रात को घनश्याम शराब पीकर घर आया और झगड़ा करने लगा, जिसके बाद गुस्से में आकर उसने घर की गैलरी के पास मृतक के सिर में तौल करने वाला लोहे का बांट दे मारा। चोट लगने के कारण घनश्याम जमीन में गिरा और वहीं पर उसकी मौत हो गई। आरोपी पुत्र के मुताबिक पिता की मौत होने के बाद उसने अपनी मां और छोटे भाई को किसी से भी इस बारे में बात करने पर हत्या करने की धमकी दी, और फिर मोहल्ले में रहने वाले अपने 31 वर्षीय दोस्त रविन्द्र कोरी की मदद से पिता के शव को टैक्सी से ओवरब्रिज के पास वाली पुलिया पर ले गया, जहां शव को फांसी के फंदे पर लटका दिया था। पूछताछ के बाद पुलिस ने आरोपी के कब्जे से घटना में प्रयुक्त लोहे का बांट और टैक्सी जप्त की और आरोपी का साथ देने वाले आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है। न्यायालय में पेश करने के बाद दोनों को जेल भेजा गया है।

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->