-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
 जिले में नहीं थम रहा चोरियों का दौर  हरपालपुर में सूने घर को अज्ञात चोरों ने फिर बनाया निशाना

जिले में नहीं थम रहा चोरियों का दौर हरपालपुर में सूने घर को अज्ञात चोरों ने फिर बनाया निशाना


छतरपुर। पिछले दिनों पुलिस अधीक्षक ने हरपालपुर और अलीपुरा थाना क्षेत्र में हुई करीब आधा दर्जन चोरियों का खुलासा कर चोरों को जेल भेजा था लेकिन अभी भी उक्त दोनों थाना क्षेत्रों में चोरियों का सिलसिला जारी है। दो दिन पूर्व जहां अलीपुरा थाना क्षेत्र के ग्राम चिरवारी में सेवानिवृत्त पुलिसकर्मी के घर चोरी हुई थी तो वहीं मंगलवार को हरपालपुर नगर के एक सूने घर से पुन: चोरी की जानकारी सामने आई है। गृहस्वामी की रिपोर्ट पर हरपालपुर पुलिस ने मौका मुआयना कर विवेचना शुरू कर दी है।

गृहस्वामी विनोद रावत ने बताया कि वह मूलत: तेईया गांव का रहने वाला है और हरपालपुर के नारायणगंज में उसका मकान है। बीते रोज विनोद रावत अपने परिवार सहित अपने गृह ग्राम गया हुआ था हरपालपुर वाले निवास पर ताला डला हुआ था। इसी बात का फायदा उठाकर अज्ञात चोर छत के रास्ते में घर में दाखिल हुए और कमरे का ताला तोड़कर अलमारी में रखे सोने-चांदी के जेवरात, पोस्ट ऑफिस की पासबुक तथा नगदी पर हाथ साफ कर दिया। मंगलवार को जब विनोद के पड़ोसियों ने उन्हें चोरी की सूचना दी, तब वह वापिस लौटा और इसके बाद थाने में चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने मौका मुआयना करने के बाद विवेचना शुरु की है। विनोद की पत्नी सविता रावत ने बताया कि चोर घर में रखी सोने की एक जंजरी, सोने की दो अंगूठी, दो जोड़ी चांदी की पायल, बच्चो की हाय, मीना सहित 15 हजार की नगदी चोरी कर ले गए हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि चूंकि हरपालपुर नगर उत्तर प्रदेश की सीमा से सटा हुआ है, जिसके चलते उत्तर प्रदेश के असामाजिक तत्व यहां आकर वारदातों को अंजाम दे रहे हैं।
छतरपुर में भी सूने घर को अज्ञात चोरों ने बनाया निशाना
छतरपुर के सिविल लाइन थाना क्षेत्र अंतर्गत छत्रसाल नगर में वैष्णोदेवी मंदिर के पास रहने वाले ज्ञानेन्द्र सिंह परमार ने बताया कि 21 जून को ग्राम मामौन निवासी उसकी सासू मां का निधन हो गया था, जिसके चलते वह अपने परिवार के साथ मामौन गया था। 21 और 22 जून की दरम्यानी रात अज्ञात चोरों ने उसके सूने घर को निशाना बनाया और ताले तोड़कर घर में रखी नगदी सहित कुछ अन्य सामग्री चोरी कर ली। अगले दिन पड़ोसियों ने ज्ञानेन्द्र को चोरी की सूचना दी जिसके बाद ज्ञानेन्द्र घर आया और पड़ताल करने के बाद सिविल लाइन थाना में शिकायती आवेदन दिया। मंगलवार को पुलिस ने ज्ञानेन्द्र के आवेदन को संज्ञान में लेकर अज्ञात के विरुद्ध मामला पंजीबद्ध किया और मामले की जांच में जुट गई है।

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->