-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
 अनैतिक देह व्यापार में लिप्त आदतन अपराधी रेखा बंगालिन गिरफ्तार

अनैतिक देह व्यापार में लिप्त आदतन अपराधी रेखा बंगालिन गिरफ्तार



नाबालिक किशोरी को गलत काम में ढकेलने में पूर्व में गिरफ्तार आरोपिया संतोषी के साथ शामिल थी आरोपिता
छतरपुर। विगत 18 मार्च 2024 की रात्रि में नाबालिक बालिका के पैर में गोली लगने की सूचना प्राप्त हुई थी। बालिका को अस्पताल पहुंचा कर शीघ्र ही गोली मारने वाले आरोपी मंजू पटेरिया जिसके विरुद्ध 40 से अधिक अपराध पंजीबद्ध हैं को थाना कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अरविंद कुजूर के नेतृत्व में थाना कोतवाली पुलिस टीम ने शीघ्र गिरफ्तार कर जेल भेजा था। पुलिस अधीक्षक अगम जैन ने उक्त अपराध की समीक्षा करते हुए संबंधित सभी आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु थाना कोतवाली एवं थाना महिला से गठित संयुक्त पुलिस टीम को निर्देशित किया गया। प्रकरण के आरोपी की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु 10000 के इनाम की उद्घोषणा की गई थी।

नाबालिक बालिका को उपचार के बाद विधिवत वन स्टाप सेंटर छतरपुर लाया गया। काउंसलिंग के दौरान नाबालिक बालिका के कथन के अनुसार महिला थाना में संबंधित सभी आरोपियों के विरुद्ध भारतीय दंड विधान एवं लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम की विभिन्न धाराओं में अपराध पंजीबद्ध किया गया था। एएसपी विक्रम सिंह एवं नगर पुलिस अधीक्षक अमन मिश्रा के मार्गदर्शन में संयुक्त पुलिस टीम द्वारा विवेचना की जा रही थी।
चिकित्सीय रिपोर्ट, पीडि़ता एवं पीडि़ता के परिजनों के कथनों और भौतिक साक्ष्य एवं तकनीकी साक्ष्य के अनुसार संबंधित आरोपियों गलत काम के लिए ढकेलने वाली आदतन अपराधी संतोषी तिवारी जिस पर थाना कोतवाली में 7 अपराध सहित उत्तर प्रदेश एवं मध्य प्रदेश के विभिन्न जिलों में अनैतिक देह व्यापार सहित अन्य तरह के अपराध पंजीबद्ध है। आदतन अपराधी हरि सिंह (4 अपराध), रक्कू उर्फ राकेश गोस्वामी (6 अपराध) एवं मंजू पटेरिया (40 अपराध) को पूर्व में गिरफ्तार किया जा चुका है। एवं उक्त प्रकरण में आदतन अपराधी रेखा बंगालिन की भी आरोपी संतोषी तिवारी के साथ संयुक्तता स्पष्ट हुई है। उक्त दोनों आदतन महिला अपराधियों द्वारा नाबालिक को गलत काम करने के लिए विवश किया गया। महिला पुलिस थाना प्रभारी निरीक्षक माधवी अग्निहोत्री एवं पुलिस टीम द्वारा महिला आदतन अपराधी रेखा बंगालिन जिसके विरुद्ध अनैतिक देह व्यापार सहित अन्य अपराध थाना सिविल लाइन एवं अन्य थानों में पंजीबद्ध है। गिरफ्तार कर अभीरक्षा में लिया गया। अभियुक्ता द्वारा किया गया कुकृत्य स्वीकार किया गया। जिसके न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। उक्त संपूर्ण कार्यवाही में थाना प्रभारी महिला थाना निरीक्षक माधवी अग्निहोत्री एवं पुलिस टीम की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->