-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
प्लाटिंग की जमीन के लिए सडक़ नहीं तो गुण्डागर्दी पर उतारू माफिया

प्लाटिंग की जमीन के लिए सडक़ नहीं तो गुण्डागर्दी पर उतारू माफिया

 


भूमाफियाओं से परेशान भूस्वामी ने लगाई न्याय की गुहार

छतरपुर। शहर के नौगांव रोड अंतर्गत ओरछा रोड़ थाना क्षेत्र में सुमित एकेडमी स्कूल के बंगल में दरक्षा हाशमी पति सैयद शाहनवाज हासमी की खसरा नम्बर 127 मौजा रागोलिया की भूमि है। इस भूमि के ठीक पीछे शहर के नामचीन भूमाफिया पंकज अग्रवाल उर्फ संटू और पवन अग्रवाल, देवेन्द्र अग्रवाल, स्वपनिल गुप्ता सहित अन्य दबंगों की भूमि है। इन माफियाओं ने भूमि पर प्लाटिंग कर प्लाट भी विक्रय कर दिये है। प्लाट बिक्रय होने के बाद इनकी भूमि के लिए कहीं से भी रास्ता नहीं है। रास्ता पाने के लिए दरक्षा हाशनी पति सैयद शाहनवाज हासमी की प्राईवेट जमीन से यह माफिया सोमवार की दोपहर पहुंचे और सडक़ निर्माण का कार्य जेसीबी से शुरू कर दिया। जब जमीन मालिक का देवर मौके पर रोकने के लिए पहुंचा तो भूमाफियाओं ने जेसीबी चढ़ाकर जान से मारने का प्रयास किया है। हालांकि मौके पर पहुंची ओरछा रेाड़ पुलिस ने किसी प्रकार मामला शांत कराया है। जमीन मालिक को डराने और धमकाने के लिए एक दर्जन से अधिक व्हीआईपी गाडिय़ों से भू माफियां मौके पर पहुंचे थे।
प्लाटिंग के लिए नहीं है सडक़
सैयद शाहनवाज हासमी के भाई ने जानकारी देते हुए बताया कि मेरी परिवार की जमीन के ठीक पीछे शहर के नामचीन भू माफिया पंकज अग्रवाल उर्फ संटू अग्रवाल और पवन अग्रवाल, देवेन्द्र अग्रवाल, स्वप्रिल गुप्ता सहित अन्य लोगों ने प्लाटिंग के लिए खरीदी थी। आपसी संबंधों के कारण इन माफियाओं को मैने अपनी जमीन से निकले दिया जा रहा था। लेकिन इन लोगों ने संबंधों को दरकिनार कर दबंगई के चलते सोमवार को जेसीबी मशीन बुलाकर मेरी जमीन में सडक़ बनाने का काम शुरू कर दिया था। क्योंकि इनकी प्लाटिंग जमीन के लिए कहीं से भी रास्ता नहीं है। इन लोगों ने पूरी जमीन पर प्लाटिंग कर दी है। कुछ प्लाट लोगों को बेच भी दिए गए है। रास्ता नहीं होने के कारण इनके प्लाटों की बिक्री कम हो गई है। इससे यह भू माफिया बौखला गए और मेरे परिवार की प्राईवेट जमीन पर सडक़ निर्माण करने लगे थे।
रोकने पर दी जान से मारनी की धमकी
जमीन मालिक के देवर ने आरोप लगाते हुए बताया कि हमारी जमीन पर जो आदमी रहता है उसके द्वारा हमलोगों को सूचना दी कि पंकज अग्रवाल उर्फ संटू और पवन अग्रवाल, देवेन्द्र अग्रवाल, स्वपनिल गुप्ता सहित एक दर्जन गाडिय़ों से आकर सडक़ निर्माण करवा रहे है। जब हम मौके पर पहुंचे और मना किया तो जेसीबी चढ़ाने का प्रयास किया। प्रांण बचाकर भागे और थाने पहुंचे थे। थाने से आई पुलिस ने सडक़ बनाने से मना किया और जहां से आमरास्ता हो वहां से सडक़ बनाने का हवाला दिया। पुलिस के सामने भी दबंग भू माफिया जमीन मालिक पर गुण्डागर्दी दिखाते रहे।
गरीबों को बनाते है निशाना
जिला प्रशासन के नियमों को तांक पर रखकर शहर में हो रही प्लाटिंग का खामियाजा गरीब परिवारों को भोगना पड़ रहा है। क्योंकि लोग जिंदगी भर की कमाई एक प्लांट खरीदने और मकान बनाने में लगा देता है। लेकिन जब उस गरीब को पता चलता है कि यह जमीन विवादित है यहां न तो लाईट है न सडक़ और न ही कोई कॉलोनी के हिसाब की सुविधा है। तब वह भू माफिया के पास जाता है और जानकारी लेना चाहता है तो उसको गुमराह कर पूरे प्लांट बेंचकर उस जमीन की ओर मुडकर भी नहीं देखते है। ऐसे में गरीब परिवार पूरे जिंदगी की कमाई को गुमा बैठता है और भू माफियां मालामाल हो रहे है।
जमीन माफियाओं ने दी सफाई
इस पूरे मामले में देवेद्र अग्रवाल सहित अन्य लोगों से बात की गई है। उन्होंने बताया कि हमलोग अभी बाहर है हमारी वहां पर जमीन है। जिस पर प्लाटिंग की जा रही है। रास्ते को लेकर क्या विवाद हुआ है यह हमलोगों को जानकारी नहीं है। फोटो और वीडिय़ों में हमलोग दिख रहे है यह हम देखकर ही बता पायेंगे। क्योंकि सोमवार को वहां पर सडक़ बनाने को लेकर क्या हुआ है इसकी जानकारी मेरे पास नहीं है।    

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->