-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
 मैं नहीं आप से परोपकार की भावना जागृत होती है- डॉ आरपी

मैं नहीं आप से परोपकार की भावना जागृत होती है- डॉ आरपी


छतरपुर । महाराजा छत्रसाल बुंदेलखंड विश्वविद्यालय छतरपुर की कुलपति प्रो. शुभा तिवारी एवं कुलसचिव यशवंत सिंह पटेल के मार्गदर्शन में तथा एनएसएस इकाइयों के कार्यक्रम अधिकारियों के निर्देशन में सात दिवसीय विशेष शिविर के तीसरे दिन वरिष्ठ स्वयंसेवकों सौरभ दुबे, अजय कुशवाह, रमन विश्वारी, संजय रजक, मानक रजक, हेमराज कुशवाह एवं वरिष्ठ स्वयंसेविकाए सोयल गोस्वामी, रश्मी दुबे, नाजय़िा, के नेतृत्व में प्रभात फेरी का आयोजन उठ जाग मुसाफिर गीत के साथ किया। उसके बाद योगाभ्यास का आयोजन किया गया। कार्यक्रम अधिकारी डॉ आनंद पांडे ने बताया कि सभी स्वयं सेवकों ने रैली निकालते हुए ग्राम गोरैया में जल संरक्षण पर एक नुक्कड़ नाटक किया। गांव के लोगो को जल संरक्षण के बारे में समझाइस दी ढ्ढ ग्राम गोरैया निवासी राम मिलन तिवारी और श्यामशेवक गुप्ता ने बताया की जल की बहुत बचत करते है और सोख्ता गड्ढे भी बनाए हुए हैं, लेकिन उनके गांव में पानी की कमी है। पानी के लिए बहुत परेशान रहते हैं। ग्रामवासी काफी दूर से पानी लाते हैं ढ्ढ पीने के पानी के विषय में ग्राम गौरैया के निवासियों का कहना है कि यदि सरकार की तरफ से कोई टंकी बना दी जाए तो हर घर में पानी आ जाए। जिससे हम लोगों का जीवन आसान हो जाए।
बौद्धिक सत्र में गणित विभाग से प्राध्यापक डॉ. बीएल कुम्हार ने एनएसएस स्वयंसेवकों का उत्साहवर्धन कर सराहना की। संस्कृत विभाग से प्राध्यापक डॉ. आर. पी. अहरवाल ने कहा कि 'मैं नहीं आपÓ से परोपकार की भावना जागृत होती है। आगे उन्होंने स्वयंसेवकों को समझाइश दी कि किस प्रकार भय, क्रोध, आलस मनुष्य को पीछे ले जाते है तथा उद्यम, साहस, धैर्य, शक्ति ,पराक्रम मनुष्य को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं । आगे के डॉ. अहरवाल ने स्वयंसेवकों को बताया कि किस प्रकार अभिवादनशील और नित्य अपने से बड़ों की सेवा करने वाले व्यक्ति की आयु, विद्या, यश, और बल में वृद्धि होती है। कार्यक्रम अधिकारी डॉ. निकिता यादव, डॉ.आनंद पांडे, डॉ.गुरु ओम मनु एवं डॉ.कमलेश चौरसिया ने स्वयंसेवकों के साथ नवीन विश्वविद्यालय कैंपस का भ्रमण किया एवं पौधों को सींचा। कार्यक्रम के अंत में कार्यक्रम अधिकारी डॉ देवेंद्र कुमार प्रजापति ने सभी का आभार व्यक्त किया।

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->