-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
 517 करोड़ रूपए से होगा छतरपुर का विकास,नगर पालिका में सम्पन्न हुई बजट सत्र की बैठक

517 करोड़ रूपए से होगा छतरपुर का विकास,नगर पालिका में सम्पन्न हुई बजट सत्र की बैठक


छतरपुर। बुधवार को नगर पालिका परिषद में बजट सत्र की बैठक संपन्न हुई, जिसमें कुल 37 बिन्दुओं पर विचार-विमर्श हुआ और यह निर्णय लिया गया है कि वित्तीय वर्ष 2024-25 में नगर पालिका क्षेत्र में कुल 517 करोड़ रुपए के विकास कार्य किए जाएंगे। इस सत्र में नगर पालिका की कुल आमद 519.15 करोड़ रुपए होगी, जिससे विकास कार्य जाने के उपरांत नगर पालिका के पास अनुमानित 2.21 करोड़ रुपए का बजट शेष बचेगा। बैठक में छतरपुर विधायक ललिता यादव, सांसद  प्रतिनिधि पुष्पेन्द्र प्रताप सिंह, नपाध्यक्ष ज्योति चौरसिया, उपाध्यक्ष विकेन्द्र बाजपेयी, सीएमओ माधुरी शर्मा सहित विभिन्न वार्डों के पार्षदगण मौजूद रहे।
दोपहर ढाई बजे शुरू हुई यह बैठक शाम साढ़े 4 बजे तक चली, इस दौरान एजेण्डे के बिन्दुओं पर चर्चा की गई। ज्यादातर बिंदुओं को सर्वसहमति से पास किया गया है। बैठक में सर्वाधिक चर्चा साफ-सफाई के मुद्दा पर हुई। विभिन्न पार्षदों ने यह बात प्रमुखता से उठाई कि उनके वार्डों में सफाई सही तरीके से नहीं हो रही है। कहीं सफाईकर्मियों की कमी है, तो कहीं सफाईकर्मी मनमानी कर रहे हैं। तमाम शिकायतें सुने जाने के उपरांत निर्णय लिया गया कि जल्द ही कचरा गाडिय़ों के लिए 40 ड्राईवरों को आउटसोर्स के माध्यम से रखा जाएगा और व्यवस्था को दुरुस्त किया जाएगा। विधायक ललिता ने सफाई व्यवस्था पर पार्षदों से समन्वय बनाकर बेहतर सफाई व्यवस्था बनाने की बात कही। इसके अलावा बैठक में जल संरक्षण के लिए नल टोंटी लगाने का टेण्डर जारी करने, ट्रांसपोर्ट नगर पर विभिन्न विकास कार्य किए जाने, नगर पालिका की संपत्ति को कब्जे से मुक्त कराने और नगर पालिका द्वारा शिक्षा विभाग की पुरानी इमारत को अपने अधिकार में लेने का निर्णय लिया गया। गौरतलब है कि वर्तमान में छतरपुर के आवास घोटाला का मुद्दा विधानसभा तक गूंज रहा है लेकिन इस बजट बैठक में उक्त मुद्दे पर कोई चर्चा नहीं की गई।
एएचपी यूनिट में एक माह के भीतर मकान खरीदने पर मिलेगी छूट-
नगर पालिका द्वारा बनाई गई प्रधानमंत्री आवास एएचपी यूनिट पर चर्चा करते हुए एक माह के लिए विशेष छूट को स्वीकृति दी गई है। निर्धारित अवधि में मकान खरीदने पर पार्षदों और नगर पालिका के स्टाफ को 20 प्रतिशत एवं शहरवासियों को 15 प्रतिशत की छूट प्रदान की जाएगी।
बैठक में उठा गुणवत्ताहीन निर्माण का मुद्दा-
एक पार्षद ने बैठक में मुद्दा उठाते हुए कहा कि कुछ ठेकेदार कम रेट पर टेण्डर लेकर, गुणवत्ताहीन कार्य कर रहे हैं। कुछ अन्य पार्षदों ने इसका समर्थन किया, जिस पर विधायक ललिता यादव ने कहा कि परिषद की अगली बैठक के एजेंडे में यह मुद्दा रखा जाना चाहिए, तथा इस तरह से काम करने वाले ठेकेदारों के भुगतान को रोका जाना चाहिए।
पूर्व की बैठकों में पास बिंदु आज भी लंबित
पार्षद रामप्रसन्न शर्मा ने बैठक में मुद्दा उठाते हुए कहा कि नगर परिषद की पहली और दूसरी बैठक में जो बिन्दु पास किए गए थे, वे अभी तक लंबित हैं। आज तक उन पर कार्य नहीं हुआ है और उन पर कोई चर्चा भी नहीं की जाती है।
वित्तीय वर्ष 2024-25 में होंगे यह विकास कार्य-

बैठक में जिन विकास कार्यों को वित्तीय वर्ष 2024-25 में कराने का निर्णय लिया गया है उनमें 50 लाख की लागत से विभिन्न स्थानों पर फुटपाथ निर्माण कार्य, 1.28 करोड़ की लागत से प्रधानमंत्री एएचपी यूनिट में लिफ्ट लगाने का कार्य, 3 करोड़ की लागत से ट्रांसपोर्ट नगर में विकास कार्य, सिंघाड़ी नदी के पास 20 दुकानों का आवंटन, सर्किल-9 नगर भवन प्रांगण की 3 दुकानों का ऑनलाइन आवंटन किया जाएगा। बैठक में विभिन्न विकास कार्यों की समयावधि भी बढ़ाई गई है। कई टेण्डर, अनुबंध न होने की वजह से निरस्त किए गए हैं।

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->