-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
बाजार क्षेत्र में वृद्ध महिला के साथ की थी लूट, आधी संपत्ति बरामद

बाजार क्षेत्र में वृद्ध महिला के साथ की थी लूट, आधी संपत्ति बरामद


छतरपुर। करीब एक सप्ताह पहले छतरपुर के कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत गोवर्धन टाकीज के पास एक वृद्ध महिला के साथ अज्ञात युवकों ने लूट की घटना को अंजाम दिया था, और इसके बाद फरार हो गए थे। पीडि़त महिला की शिकायत पर पुलिस ने लूट का प्रकरण पंजीबद्ध कर सक्रियता से कार्यवाही करते हुए एक आरोपी को मध्यप्रदेश के शहडोल से दबोच लिया है। आरोपी के पास से लूट की आधी संपत्ति भी बरामद की गई है। कोतवाली थाना प्रभारी अरविंद कुजूर ने बताया कि 20 दिसंबर को पीडि़त महिला सुबह के वक्त मॉर्निंग वॉक पर निकली थी। इसी दौरान गोवर्धन टाकीज के पास बाईक से आए अज्ञात बदमाशों ने उसे डरा-धमकाकर उसके आभूषण लूट लिए थे। पीडि़त महिला की शिकायत पर कोतवाली थाना में अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध लूट का प्रकरण पंजीबद्ध करते हुए पुलिस ने विवेचना शुरू की।

सीसीटीवी से मिला बाईक का नंबर-
मामले की जांच हेतु वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा सीएसपी अमन मिश्रा के नेतृत्व में गठित की गई टीम ने सबसे पहले घटना स्थल के आसपास के सीसीटीवी खंगाले जिसमें आरोपियों की बाईक का नंबर पुलिस को मिल गया। उक्त बाईक उत्तराखंड की थी। इसी आधार पर पुलिस ने शहर के होटलों में रुकने वाले लोगों की जानकारी निकाली जिसमें बस स्टैंड के पास स्थित एक होटल में उत्तराखंड के कुछ लोगों के रुकने की जानकारी मिली। उक्त लोगों के दस्तावेजों का अवलोकन करने पर पुलिस को आरोपियों का पता मिल गया। मुखबिर तंत्र को सक्रिय करने के बाद पुलिस की एक टीम आरोपियों के निवास स्थल पंतनगर जिला ऊधम सिंह नगर उत्तराखंड रवाना हुई। पंतनगर और ऊधम सिंह नगर में पुलिस ने सीसीटीवी वीडियो में दिख रहे युवकों की पहचान करने का प्रयास किया जिसमें पुलिस सफल रही और पुलिस को आरोपियों की पूरी जानकारी हाथ लग गई, हालांकि पुलिस को एक भी आरोपी नहीं मिला। इसी बीच पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि लूट का एक आरोपी मध्यप्रदेश के शहडोल जिले में है। उक्त सूचना मिलते ही पुलिस की एक अन्य टीम ने शहडोल जाकर संबंधित आरोपी को दबोच लिया और गिरफ्तार कर छतरपुर ले आई।
देश भर में करते हैं लूट-
कोतवाली थाना प्रभारी अरविंद कुजूर ने बताया कि पकड़े गए आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वह उत्तराखंड के ऊधमसिंह नगर जिले का रहने वाला है और वहां घोड़ा, खच्चर बेचने का काम करता है। इस काम के साथ-साथ वह अक्सर अपने साथियों के साथ बाईक से देश के अलग-अलग शहरों में जाकर लूट की घटनाओं को अंजाम देता है। पकड़े गए आरोपी के पास से पुलिस को लूट की कुछ संपत्ति मिली है, शेष संपत्ति अन्य आरोपियों के पास बताई गई है। फिलहाल पुलिस फरार आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है।
इनकी रही सराहनीय भूमिका-
इस कार्यवाही में थाना प्रभारी अरविंद कुजूर के अलावा उप निरीक्षक नंदकिशोर सोलंकी, प्रमोद रोहित, राहुल तिवारी, प्रधान आरक्षक राजेश पाठक, राजेश अहिरवार, अरविंद कुशवाहा, संदीप अहिरवार, आरक्षक आनंद पटेल, विकास खरे, रूपेश, रामशरण त्रिपाठी और साइबर सेल के प्रधान आरक्षक संदीप तोमर की सराहनीय भूमिका रही।

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->