-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
बागेश्वर धाम पीठाधीश्वर को लॉरेन्स विश्नोई गैंग के नाम से धमकाने वाले को पुलिस ने बिहार से दबोचा

बागेश्वर धाम पीठाधीश्वर को लॉरेन्स विश्नोई गैंग के नाम से धमकाने वाले को पुलिस ने बिहार से दबोचा

छतरपुर। बागेश्वरधाम पीठाधीश्वर धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री को लॉरेन्स विश्नोई गैंग के नाम से हत्या की धमकी देकर 10 लाख रूपये की फिरौती मांगने वाले आरोपी को छतरपुर पुलिस ने बिहार राज्य के पटना शहर से दबोच लिया है। बताया गया है कि 19 अक्टूबर को बागेश्वर धाम की अधिकृरत मेल आईडी पर धमकी भरा मेल आया था जिसमें अज्ञात शख्स ने लॉरेन्स विश्नोई गैंग के नाम से जान से मारने की धमकी देकर एक दिन के भीतर 10 लाख रुपए की मांग की थी। घटना की शिकायत बमीठा थाना में 20 अक्टूबर को कराई गई और पुलिस ने धारा 387, 507 के तहत अज्ञात के विरूद्व प्रकरण पंजीबद्व कर मामले को विवेचना मे लिया।

घटना की गंभीरता को देखते हुये वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में खजुराहो एसडीओपी के नेतृत्व में बमीठा थाना प्रभारी संजय पाण्डेय तथा साईबर सेल प्रभारी उपनिरीक्षक सिद्वार्थ शर्मा का विशेष जांच दल गठित किया गया। इसी बीच 22 अक्टूबर को आरोपी ने पुन: धमकी भरा मेल भेजकर समय समाप्त होने की बात कही। पुलिस अधीक्षक छतरपुर द्वारा साईबर सेल के माध्ययम से प्रादेशिक नोडल ऐजेंसी को आवश्यरक पत्राचार कर राष्ट्रीय अनुसंधान अभिकरण के माध्यम से छतरपुर के इतिहास में प्रथम बार इंटरपोल की सहायता से स्विरटजरलैण्ड की ऐजेंसियों से जानकारी प्राप्त की।
 इंटरनेट से मिली जानकारी व अन्य साक्ष्यों को एक दूसरे से जोड़कर देखा गया तो ज्ञात हुआ कि यह कृत्य बिहार राज्य के पटना शहर में कंकरबाग इलाके में रहने वाले किसी व्यक्ति द्वारा किया गया है। बारीकी से विवेचना करने पर ज्ञात हुआ आरोपी बिहार के नालंदा जिले के शंकरडीह गांव का रहने वाला है। इसके बाद छतरपुर पुलिस के एक दल ने पटना जाकर स्थानीय पुलिस के सहयोग से आरोपी को गिरफ्तार किया। उसके कब्जे से पुलिस ने मोबाईल भी बरामद किए हैं। 
आरोपी को अभिरक्षा मे लेकर पूछताछ करने के बाद न्यायालय में प्रस्तुत किया गया। संपूर्ण कार्यवाही में निरीक्षक जयवंत काकोडिय़ा थाना प्रभारी बमीठा, उपनिरीक्षक संजय पाण्डेय चौकी प्रभारी पहरा, सहायक उपनिरीक्षक अशोक शर्मा, आरक्षक प्रभात द्विवेदी, निकेश यादव, मुलायम के अलावा सायबर सेल के उपनिरीक्षक सिद्धार्थ शर्मा, किशोर रैकवार, संदीप सिंह तोमर, धर्मराज पटेल, विजय सिंह की महत्वूर्ण भूमिका रही।

--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->