-->
पाए सभी खबरें अब WhatsApp पर Click Now

Below Post Ad

Image
एसडीएम बालाघाट गोपाल सोनी निलंबित

एसडीएम बालाघाट गोपाल सोनी निलंबित

 


बालाघाट ।   27 नवंबर को तहसील कार्यालय में बने अस्थाई स्ट्रांग रूम में डाक मतपत्रों की कथित गिनती का आरोप मामले में जिला प्रशासन की लगातार किरकिरी हो रही है। पहले निर्वाचन आयोग ने प्रक्रियात्मक त्रुटि मानते हुए डाक मतपत्र के नोडल अधिकारी हिम्मत सिंह भवेड़ी को निलंबित किया था। अब जिला कलेक्टर व जिला निर्वाचन अधिकारी डा. गिरीश कुमार मिश्रा ने जबलपुर कमिश्नर के आदेश के बाद बालाघाट के अनुविभागीय अधिकारी व विधानसभा क्रमांक-111 के रिटर्निंग अधिकारी गोपाल सोनी को निलंबित किया है।

निलंबन से जुड़ा आदेश मंगलवार रात जारी-

निलंबन से जुड़ा आदेश मंगलवार रात जारी किया गया है। कलेक्टर डा. मिश्रा ने डिप्टी कलेक्टर राहुल नायक को अपने वर्तमान कार्य के साथ अनुभाविभागीय अधिकारी बालाघाट का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है। एसडीएम को निलंबित करने के संबंध में फिलहाल प्रशासनिक स्तर पर अाधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है। आदेश की प्रति इंटरनेट मीडिया पर बहुप्रसारित है।

डाक मतपत्र मामले में दो दिन में दूसरा निलंबन-

गौरतलब है कि स्ट्रांग रूम में डाक मतपत्रों को गिनने का आरोप लगने के बाद जिला कलेक्टर सहित मतदान दल सवालों के घेरे में आ गया है। कांग्रेस लगातार इस मामले पर हमलावर है। प्रदेश स्तर से लेकर जिला स्तर तक कांग्रेस नियम विरुद्ध तरीके से डाक मतपत्रों को गिनने का आरोप लगा रही है।

प्रक्रियात्मक त्रुटि होने की बात कही-

चुनाव आयोग ने डाक मतपत्रों की गिनती करने जैसी बातों को खारिज करते हुए इसमें प्रक्रियात्मक त्रुटि होने की बात कही है। मामला सामने आने के पहले ही दिन चुनाव आयोग ने देर शाम लालबर्रा तहसीलदार और डाक मतपत्रों के नोडल अधिकारी हिम्मत सिंह भवेड़ी को निलंबित किया था। अब जबलपुर कमिश्नर के आदेश के बाद जिला कलेक्टर ने बालाघाट एसडीएम को निलंबित किया है।


--- इसे भी पढ़ें ---

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article

-->